Sunday, July 31, 2022

ख्वाहिश थी "Brahmachari" बनु पर कृष्ण की अलग ही योजना थी | POWERFUL STORY🔥 | Uttama Damodar Das

ख्वाहिश थी "Brahmachari" बनु पर कृष्ण की अलग ही योजना थी | POWERFUL STORY🔥 | Uttama Damodar Das उत्तम दामोदर दास (उदय दावड़ा) का जन्म इंदौर (मध्य प्रदेश) में एक गुजराती परिवार में हुआ था। उन्हें "कृष्ण प्रतियोगिता" के माध्यम से स्कूल के दिनों में कृष्ण भक्ति से परिचित हुए थे और 1993 में कॉलेज के दिनों में पुन: कृष्णभक्ति से जुड़ गए। तब से वे कृष्णभक्ति का अभ्यास कर रहे हैं। उन्होंने बिजनेस मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री (एमबीए) किया है, वे वर्तमान में अपोलो अस्पताल - शेषाद्रिपुरम, बैंगलोर के प्रमुख हैं, अतीत में उन्होंने अपोलो क्रैडल हॉस्पिटल्स के साथ और UAE में बुर्जील अस्पताल के मुख्य परिचालन अधिकारी के रूप में काम किया है। वे मंदिर में विभिन्न सेवाएं करते रहते हैं जिनमें भक्ति वृक्ष उपदेश, वित्त, भगवान की पूजा, ग्रन्थ वितरण, त्योहार आदि शामिल हैं। Uttama Damodar Das (Uday Davda) was born in a pious Gujarati Family in Indore (Madhya Pradesh). He was introduced to Krishna Consciousness during the school days through “Krishna Contest” and reintroduced during the college days in 1993 and has been practicing since then. He holds Master’s degree in business management (MBA), he is currently heading the Apollo Hospital – Seshadripuram, Bangalore in the past He has worked with Apollo Cradle Hospitals and also in the UAE as Chief Operating Officer with Burjeel Hospital. He has had various services in the temple which include the Bhakti Vriksha preaching, finances, deity worship, book distribution, festivals etc.
Powered by Blogger.